Saturday, October 25, 2008

खवाब आप के..

'99galleries.com'



देर रात तक हम आपसे मिलते रहे ...

हर पल आपकी निगाहों में चमकते रहे ...
देखिये इस कदर ना झुकाइए पलके ...
पल -दो-पल तो रु-बरु होने दो ख़ुद से .... !!

यू रात भर आपको मनाया किए ...
देर रात तक आपकी अदाए देखा किए ....!!

देर रात तक हम आपसे यू मिलते रहे .... !!

खयालो को ना यु दबाइए लबो से ...
निकलते है जज़्बात जो, अब कह डालिए ...
इस तरह रात भर आपकी मिन्नतें करते रहे ...

आप ही को ...., आप ही को ....,
खवाबो में भी , बस आप ही को ... देखा किए ....!!

देर रात तक हम आपसे मिलते रहे .... !!

12 comments:

शोभा said...

अच्छा लिखा है. दीपावली की शुभ कामनाएं.

Naazkalra said...

Hi, realy nice poem, lekin kon hai wo jis se milte rahe. ye word verification
ko hata de plz. my email- naazkalra@gmail.com

Naazkalra said...

Hi, realy nice poem, lekin kon hai wo jis se milte rahe. ye word verification
ko hata de plz. my email- naazkalra@gmail.com

श्यामल सुमन said...

कुछ जरूरत है इसमें सुधारों की बस।
अगर दीदार हो जाए लिखते रहें।।

दीपावली की शुभकामनाएँ।

सादर
श्यामल सुमन
09955373288
मुश्किलों से भागने की अपनी फितरत है नहीं।
कोशिशें गर दिल से हो तो जल उठेगी खुद शमां।।
www.manoramsuman.blogspot.com

Amit K. Sagar said...

आपका स्वागात है. दिवाली की बहुत-बहुत शुभकामनाएं.

taanya said...

Shobha ji, naaz ji, suman ji and amit
ji bahut bahut khushi hui aap sab ko apne blog per dekh kar...jaisa bhi likha maine aapne ise pasand kiya aur rev.diye..thanks a lot...

umeed karti hu aage bhi aapka sath milta rahega...

ek baar fir se aapko aur apke pariwaar ko deepawali ki shubh kaamnaao k sath thanks a lot...

Amit K. Sagar said...

जी तान्या जी, हमेशा. पर अपनी नै पोस्ट की बाबत सूचना देते रहना.

प्रदीप मानोरिया said...

आपका स्वागत है निरंतरता की चाहत है . समय निकालें हमारे ब्लॉग पर भी निगाह डालें

Dr. VisH said...

wahhhh....aapka swagat hai....u done a great job with ur impressing writing skill.....
i realy love ur poem....keep it up up and up but plz plz stay at earth.....
have a nice...hey to welcome to my blog....www.yomantra.blogspot.com...

Dr. VisH said...

Nice poem from, from nice feel ....i really like it.
keep it up up and up........have a nice day...and festival.... if u have time cheack my blog ...i know i m not good writer as well as ....u?
www.yomantra.blogspot.com

रचना गौड़ ’भारती’ said...

अच्छा लिखा है.

sangeeta said...

हर पल आपकी निगाहों में चमकते रहे ...
देखिये इस कदर ना झुकाइए पलके ...
पल -दो-पल तो रु-बरु होने दो ख़ुद से .... !!

wah ise kahate hain pyaar men bekaraari.......

खयालो को ना यु दबाइए लबो से ...
निकलते है जज़्बात जो, अब कह डालिए ...
इस तरह रात भर आपकी मिन्नतें करते रहे ...

jab pata hi hai ki mann men khayaal hain to ye bhi jaanti hi hongi ki kya hain???????? par bahut khoob kaha hai

आप ही को ...., आप ही को ....,
खवाबो में भी , बस आप ही को ... देखा किए ....!!

wah kya arjun ki aankh paayi hai........machhali bana kar rakh diya.
bahut khoob